शनिवार, 26 दिसंबर 2015



तू जिए शान से ,तेरी हर ख्वाहिश ,पूरी हो ,
क़ामयाबी तेरे कदम चूमे ,ये उसकी मजबूरी हो। 

1 टिप्पणी:

Pankaz Kumar ने कहा…

Nyc lines mam

form ceo of http://www.pztheshayar.com